पहले देश की आंतरिक सुरक्षा मजबुत होना चाहिए, फिर वार्ता -शरद

688

सहरसा- देश की पहले आंतरिक सुरक्षा दुरुस्त हो तब जाकर पाकिस्तान से बात होनी चाहिये,पाकिस्तान मामले में भारत की नीति साफ नहीं है,केंद्र की सरकार इस मुद्दे पर चुप –चाप तरीका अपना रही है,साथ ही पठानकोट हमले की भारत सरकार जाँच तो कर ही रही है साथ ही जनता दल (यु०) भी इस मामले नज़र रखे हुए है उक्त बातें सहरसा परिसदन में जद(यु०) के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह राज्यसभा सांसद शरद यादव ने शनिवार को पत्रकारों से कहे |  श्री यादव ने कहा की यह दोनों देश के बीच का मामला है और आने बाले सांसद सत्र में इस पर चर्चा होगी | बिहार पर भी चर्चा करते हुए श्री यादव ने कहा की राज्य में भी पुर्ण शराब बंदी होनी चाहिए,शराब से युवा पीढ़ी बर्बाद हो रहे है,अपराध के मुद्दे पर सांसद ने कहा की अन्य प्रेदश के ग्राफ के मुकाबले बिहार में अपराध कम हुआ है,स्थानीय मुद्दे पर चर्चा करते हुए उन्होंने कहा की बंगाली बाज़ार रेल ब्रिज के लिए वे रेल मंत्री से भी बात किए|  प्रेस वार्ता के अवसर पर विधायक दिनेश चन्द्र यादव ,पुर्व मंत्री नरेंद्र प्रसाद यादव ,सोनबर्षा विधायक रत्नेश सादा,बिहारीगंज विधायक निरंजन मेहता ,विधान पार्षद विजय कुमार वर्मा,पुर्व विधायक डॉ० अरुण कुमार सहित सहरसा,मधेपुरा,सहित सुपौल के जिलाध्यक्ष व पार्टी नेता,कार्यकर्ता मौजूद थे |