बच्चों से मुलाकात करते किरण रिज्जू

854
The Minister of State for Home Affairs, Shri Kiren Rijiju in a group photograph with the children from Mizoram on tour, organised by the Assam Rifles, in New Delhi on January 12, 2016.

केन्‍द्रीय गृह राज्‍य मंत्री श्री किरेण रिजीजू ने आज यहां मिजोरम के सेरछिप जिले के बच्‍चों के एक समूह के साथ मुलाकात की, जो असम राइफल्‍स द्वारा आयोजित राष्‍ट्रीय एकीकरण पर्यटन पर थे।

बैठक के दौरान बच्‍चों ने देश के विभिन्‍न ऐतिहासिक स्‍थलों पर अपनी यात्रा के अनुभवों को साझा किया और असम राइफल्‍स तथा भारत सरकार को इस प्रकार की यात्राओं के आयोजन के लिए धन्‍यवाद दिया।

बच्‍चों के साथ बातचीत करते हुए श्री किरेण रिजीजू ने बीएसएफ एवं सीआरपीएफ समेत असम राइफल्‍स को धन्‍यवाद दिया, जो पूर्वोत्‍तर क्षेत्र एवं जम्‍मू और कश्‍मीर जैसे अन्‍य कठिन क्षेत्रों के छात्रों के लिए ऐसे पर्यटनों के आयोजन के जरिए राष्‍ट्रीय एकीकरण की प्रक्रिया को मजबूत बनाने एवं देश की सामाजिक-सांस्‍कृतिक विविधता को सीखने के लिए छात्रों को अवसर देने की दिशा में काम कर रहे हैं। श्री किरेण रिजीजू ने कहा कि असम राइफल्‍स केवल पूर्वोत्‍तर क्षेत्र में शांति बनाए रखने की दिशा में ही काम नहीं कर रहा, बल्कि सामाजिक कार्य भी कर रहा है।

मिजोरम के बारे में बोलते हुए श्री किरेण रिजीजू ने कहा कि मिजोरम देश के सबसे शांतिपूर्ण राज्‍यों में से एक है और यहां पर्यटन के लिए विशाल संभावनाएं हैं, जिसकी प्राप्ति बुनियादी ढांचे को मजबूत बनाने तथा बेहतर संपर्क के जरिए की जा सकती है। उन्‍होंने कहा कि चूंकि मिजोरम की आबादी का एक तिहाई हिस्‍सा आइजोल में रहता है, इसलिए दक्षिणी मिजोरम को विकसित करने की आवश्‍यकता है।

गृह राज्‍य मंत्री ने कहा कि भारत विविध धर्मों एवं संस्‍कृतियों के साथ एक विशाल देश है, जिसका सभी नागरिकों द्वारा सम्‍मान किया जाना चाहिए। उन्‍होंने यह भी कहा कि भारत के युवाओं को भारत के एक महाशक्ति बनने के स्‍वप्‍न को साकार करने की दिशा में अपना योगदान देना चाहिए।

श्री किरेण रिजीजू ने छात्रों को इस यात्रा का लाभ उठाने तथा परिवार और मित्रों के साथ अपने अनुभव को साझा करने एवं एक अच्‍छे नागरिक बनने की दिशा में प्रयास करने का सुझाव दिया।