Home / खगड़िया / रामबोल दीदी ने खेल के प्रति छात्र-छात्राओं के दिल में भर दी उड़ान !

रामबोल दीदी ने खेल के प्रति छात्र-छात्राओं के दिल में भर दी उड़ान !

खेल मैदान के लिए दान किया  दो बीघा जमीन

खगडिया@मुकेश कुमार मिश्र :जिले के परवत्ता प्रखंड अंतर्गत कवेला पंचायत के कवेला निवासी स्व नाथो कुंवर की पुत्री अर्चना सिंह उर्फ राम बोल दीदी ने खेल मैदान के लिए उत्क्रमित उच्च विद्यालय कवेला के बगल में दो बीघा जमीन दान देकर पंचायत के छात्र -छात्राओं  के दिल में खेल के प्रति एक उड़ान भर दी।अब पंचायत के छात्र -छात्रा अपने खेल मैदान में अभ्यास करेंगे।

उत्क्रमित उच्च विद्यालय कवेला में भवन निर्माण के बाद खेल मैदान का अभाव था। ओर कवेला पंचायत का एकलौता उच्च विद्यालय हैं।इस ऐतिहासिक कार्य को लेकर कवेला पंचायत के लोगों ने अर्चना सिंह को माला पहनाकर कर स्वागत किया। तथा बुधवार को अर्चना सिंह के द्वारा खेल मैदान का उद्घाटन फीता काटकर करवाया गया। मिली जानकारी के मुताबिक स्व० नाथो कुंवर का कवेला गांव में सार्वजनिक क्षेत्र में सराहनीय योगदान रहा है। उन्होंने विद्यालय एवं मंदिर निर्माण के लिए पहले भी जमीन दान कर चुके हैं  वहीं उनकी पुत्री अर्चना सिंह भी अपने पिता के राह पर चलकर अपने नैहरा के लोगों की सेवा करते आ रहे हैं। जबकि अर्चना सिंह ( पति स्व अजीत सिंह )  का ससुराल रहिमपुर (खगडिया) हैं।

करोड़ों की लागत से करवाया मंदिर का निर्माण  

कवेला पंचायत के मुखिया बालकृष्ण उर्फ उर्फ ललन शर्मा ने बताया कि स्व नाथो कुवंर कवेला गांव के लिए जो कार्य किए है लोग कई पुस्त तक नहीं भूल पाएंगे।  उनकी पुत्री ने ओर एक कदम बढकर पंचायत वासियों के लिए ऐतिहासिक कार्य कर छात्र – छात्रों की समस्या को सदा के लिए दुर कर दिए। कुमार जनमयजय ,डा०मानवेन्द्र कुमार,कुमार दींपांकर, कुमार कर्णकरण, मुकेश कुंवर,बलराम कुंवर, मुरारि  कुंवर,विशिष्ट कुंवर, प्रमोद झा, हरदेव झा, ज्योतिंन्द्र मिश्र, आदि के बताया कि अर्चना सिंह के द्वारा करोड़ों की लागत से श्रीराम जानकी मंदिर का निर्माण कार्य विगत दिनों सम्पन्न हुआ।तथा सोमवार को नवनिर्मित मंदिर में भगवान श्रीराम परिवार का गृह प्रवेश किया गया। तीन दिनों से उक्त मंदिर में भक्ति संगीत के साथ भंडारा का कार्यक्रम चल रहा है।मंदिर की भव्यता अपने ओर आकर्षित करती हैं।

चौथम के एक दंपती ने भी  किया  हैं जमीन दान  

आज भी समाज में उच्च स्तर पर सेवा करने की ललक कुछ लोगों  के बीच है। इसी क्रम में विगत माह चौथम प्रखंड के देवका दिवसीय राजेन्द्र प्रसाद सिंह एवं उनकी पत्नी चन्द्रप्रभा देवी ने हाईस्कूल के लिए एक एकड़ जमीन दान देकर एक मिसाल कायम किया है।

About Kunal Kishor

और पढ़े

उल्लास पूर्वक मनाया गया अनुमंडल स्थापना दिवस

​सिमरी बख्तियारपुर अनुमंडल ने मनाया सिल्वर जुबली 22 सितंबर 1992 को सिमरी बख़्तियारपुर को मिला …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *